रोमांस से भरपूर भारत के 5 स्पेशल हनीमून स्थल 5 Special Honeymoon Destinations in India

0
660

यदि आप अपने जीवन साथी के साथ सुकुन से भरे खुशी के पल बिताने के लिये किसी खास जगह पर जाने की सोच रहे हैं। तो हम अपने लेख के द्वारा आपको ऐसी 5 जगहों के बारे में बता रहे है जो भारत में खूबसूरत आकर्षण वाली जगहों में से एक हैं जहां पर आप अपने हनीमून (Honeymoon Destinations) को बना सकते है हमेशा याद रखने वाला पल। आपके हनीमून के लिये ये ऐसी दिलचस्प जगहों में से एक है जिसे आप अपने साथी के साथ यादगार लम्हें बिता सकते है।

1.दार्जलिंग-

दार्जलिंग खूबसूरत रोमांटिक पर्यटन स्थल के नाम से जाना जाता है। यहां की खुशनुमा वादियां आपके हनीमून में चार-चांद लगा देती है। दार्जलिंग को पहाड़ो की रानी कहा जाता है। यहां की बर्फ से ढकी ऊंची ऊंची वादिंया है, कल कल करती नदीयां, ऊंचे ऊंचे देवदार के वृक्ष और साथ ही प्रकृति के दिलकश नजारें हमारे मन को मोह लेते है। यहां के सौंदर्य को देखकर लगता है कि मानों प्रकृति ने अपना सारा सौदर्यं यहीं बिखेर दिया हो। बर्फ से ढकी इन वादियों को चांदी की चादर से लपेट दिया हो। यहां पर काफी ऊंचे से सूर्योदय और सूर्यास्त के समय का सबसे मनमोहक दृश्य देखने को मिलता है जिसे देखने के लिये लोग दूर दूर से आते है। दार्जलिंग में सबसे दिलकश नाजारा है विक्टोरिया झरना जो लोगों का मन मोह लेता है इसके अलावा सेनथल झील, ऱॉकगार्डन जिसकी खूबसूरती देख लोग दांतों तले उगलिया दबा लेते है।

यात्रा करने के लिए उचित समय : – सितंबर.-अप्रैल. यहाँ की यात्रा करने के लिए सबसे अच्छा महीना है।

परिवहन: – निकटतम रेलवे स्टेशन न्यू जलपाईगुड़ी से दूर 62km की दूरी पर स्थित है । बागडोगरा हवाई अड्डे से दार्जिलिंग सिर्फ 96km दूर है इसलिए आप सड़क परिवहन के द्वारा लगभग 3  घंटे में पहुंच सकते है।

2.केरल-

अपने हनीमून को जीवन का यादगार क्षण बनाने के लिये केरल बहुत ही सुंदर जगह है यहां का प्राकृतिक सौंदर्य काफी अद्भुत और रोमांचित है। प्रकृति के द्वारा वरदान के रूप में मिले सौंदर्य के कारण केरल को देवभूमि भी कहा जाता है। क्योंकि केरल की सुंदरता किसी स्वर्ग से कम नही है। यहां पर समुद्री तटों का किनारा जहां शाम को बैठने में अद्भुत शांति मिलती है। और यहां की प्राकृतिक छटा का दृश्य देखते ही बनता है।

यात्रा का सबसे अच्छा समय- केरल में य़ात्रा करने का सबसे अच्छा समय सर्दियों के महीने का होता है। इन महीनों में ना सिर्फ यहां का मौसम सुहाना होता है बल्कि उस समय उमस और गंदगी भी कम होती है।इसके अलावा आप मानसून के समय में भी अपनी यात्रा की योजना बना सकते हैं। देश के कुछ राज्य जैसे केरल, गोवा और असम जैसी जगहों में मानसून के समय घूमने का मजा ही कुछ और होता है।

परिवहन: आप हवाई, रेल या सड़क मार्ग से भी केरल तक पहुँच सकते हैं। केरल तक पहुंचने के लिये तिरुवनंतपुरम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा, कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे और कालीकट अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे भी शामिल है।ये केरल में तीन प्रमुख हवाई अड्डें हैं । इसके अलावा कई अंतर्राष्ट्रीय एयरलाइंस, विदेशों एवं भारत के लिये प्रमुख भारतीय हवाई अड्डों के लिए रोजाना उड़ान भरती हैं। अधिकांश विदेशी सैलानी दिल्ली और मुंबई जैसे महानगरों के हवाई अड्डों का इस्तेमाल करते हैं। इन हवाई अड्डों में सभी आधुनिक सुविधाएं हैं। ज्यादातर भारत के अंदर यात्रा करने के लिए रेलयात्रा सबसे सस्ता माध्यम है। और उड़ान के मुकाबले उससे कम बजट में एसी3 टियर डिब्बे मिल जाएंगे, जो ज्यादा किफायती होते हैं।

3.गोवा- 

गोवा का सौंदर्य अपने ही आप में रोमांटिक और तेजस्वी होता है। समुद्र की उफनती लहरों के बीच अपने प्यार का इजहार एक नये जोड़े में उफान और जोश को भर देता है। अगर इस स्थल को हनीमून डेस्टिनेशन कहा जाए तो कुछ गलत नहीं होगा। क्योंकि गोवा अब प्रेमी युगलजोड़ियों की पसंद बनता जा रहा है। यहां पर समुद्र की लहरों का संगम ऊचें ऊचें नारियल के पेड़ और दूर तक का शांत वातावरण हमारे दिलों को छूने के लिये काफी है । इसलिये अपने फुर्सत के क्षणों में अपने प्यार की बातों को करने के लिये काफी मात्रा में लोग यहां आते है। रात को खुले आसमान के नीचे समुद्र तट के किनारे रेतीली जगह पर अपने साथी को अपनी बांहो में लेकर बैठने का मजा ही कुछ और होता है जो हमारे खुशी के पलों का हर लम्हा यादगार बना देता है।

उचित समय यात्रा करने के लिए : – गोवा में घूमने का मजा गर्मियों में, मार्च से मई के बीच में है। और सर्दियों में , अक्टूबर,फ़रवरी. का समय एकदम सही समय है।

परिवहन: – भारत के सभी प्रमुख शहरों से ट्रेन सुविधा आसानी से उपलब्ध है । मडगांव और थिविम गोवा में दो रेलवे स्टेशन हैं। अगर आप अपना समय और ऊर्जा बचाना चाहते है तो एयरलाइंस आपके लिये बेहतर विकल्प है।

4.उदयपुर –

अरावली की पर्वत श्रंखलाओं से घिरा यह शहर झीलों और सुदंर जगमागाते महलों से अपनी शान की गाथा गा रहा है। इसकी खूबसूरती है आलीशान महल, सुंदर बाग बगीचे,और यहां की झीलें इस शहर को चार चांद लगा रहे हैं । इसके अलावा उदयपुर को झीलों के शहर के नाम से जाना जाता है। अगर आप अपने हनीमून को और अधिक यादगार बनाना चाहते है तो महलों और झीलों के बीच बिताया गया यह पल आपके हनिमून को और ताजा बना सकता है। आपके हनीमून के लिये उदयपुर एक बेहत विकल्प है।

यात्रा करने के लिए उचित समय : – अक्टूबर-मार्च इस मनोरम जगह पर घूमने का एकदम सही महीना हैं

परिवहन: – यहां पर पहुंचने के लिये आप हवाई मार्ग के द्वारा या ट्रेन के द्वारा आराम से पहुंच सकते है।शहर महाराणा प्रताप हवाई अड्डे से 20 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

5.कूर्ग-

मैसूर से 100 कि.मी. की दूरी पर स्थित कूर्ग हिल स्टेशन अपनी खूबसूरती के लिये एक अलग जगह बनाया हुआ है। अपनी प्राकृतिक अनमोल छठा बिखेरने के कारण इसे भारत का स्कॉटलेंड भी कहा जाता है। यंहा की विकराल छठा लोगों को यहां पर पहुंचने के लिये मजबूर कर देती है यहां पर ज्यादातर शातं और एंकात वातावरण होने के कारण युगल प्रेमियों के लिये अपने हनीमून का लुफ्त उठाने के लिये यह काफी अच्छा स्थल माना गया है।

उत्तम समय यात्रा करने के लिए : – मार्च से मई के बीच का महीना यहा पहेचने के लिये काफी सुहावना होता है।आप जुलाई से सिंतबर के समय यहां के झरनों का मजा खूब उठाया जा सकता है।

परिवहन: – अगर आप ट्रेन या विमान से आ रहे हैं, आप कूर्ग तक पहुंचने के लिए मैसूर रेलवे स्टेशन से हवाई अड्डे दूरी 95km से 160km है ।

कूर्ग के सबसे निकट बेंगलुरु हवाईअड्डा है। यह कूर्ग से 196 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। रेलमार्ग से कूर्ग पहुँचने के लिए मैसूर रेलवे स्टेशन सबसे निकट है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.